FEATUREDNewsजरूर पढ़ेलाइफस्टाइलहेल्थ

“सभी रोगो की एक दवा” जानिए फिट रहने का आसान मंत्र……

इस लेख के माध्यम से हम बतायेगे की कैसे......आप अपने जीवन को 'सरल और सुखद' बना सकते है....

ज़िंदगी की भागदौड़ में हम सभी जीना भूल गए है जैसा की आप सभी जानते है की हमारे आस पास हम देखते है की कितनी नकारात्मक सोच होती जा रहे है और लगातार हमें बीमारियों ने घेरा हुआ है…… लेकिन योग कहने में यह अग्रेजी में सिर्फ ‘3’ शब्दो का है लेकिन अगर इनको कोई अपनी असल ज़िंदगी में इस्तेमाल करे तो करे तो एक इंसान की ज़िंदगी बदल सकती है

योग से आपके शरीर को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन मिलता है.

Yoga for Beginners: योगा भारत में सदियों से योग साधना के द्वारा अनेक शारीरिक बीमारियां ठीक हुई हैं. आज योग ने न सिर्फ भारत बल्कि विदेशों में भी अपनी जगह बना ली है. योग से आपके शरीर को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन मिलता है. शरीर को फिट तथा लचीला बनाए रखने के लिए सबसे ज्यादा योग का सहारा लिया जा रहा है. योग एक साधना है जो शरीर व मन को शान्त रखने में मदद करता है योगासन से आप शरीर को फिट रखने के साथ-साथ शरीर की बीमारियों से भी निजात पा सकते हैं. योग एक ऐसा माध्यम है जिसके द्वारा आप अनेक बीमारियों जैसे की मोटापा, शरीर दर्द, कमर दर्द, गठिया, मानसिक संतुलन और अनिद्रा जैसी गंभीर बीमारियों से निजात पा सकते हैं. तो चलिए हम आपको बताते हैं कि कैसे आप मन और शरीर दोनों को कैसे स्वस्थ रख सकते है

10 योगासन जो आपको मन और शरीर दोनों को फिट रखने में मदद करेगा

1. सूर्य नमस्कार- (Surya Namaskar)                                                                                                                        सूर्य नमस्कार योगासनों में सर्वश्रेष्ठ योग माना जाता है सूर्य नमस्कार एक शारीरिक क्रिया है जो सूर्योदय के समय किया जाता है. सूर्य नमस्कार में 12 क्रिया होती हैं. इससे पूरे शरीर में जोर पड़ता है जो दिल को स्वस्थ रखने में मदद करता है.

2. स्वासासन – (Shavasana Yoga)                                                                                                                   स्वासासन के द्वारा शरीर में ऑक्सिजन पहुंचता है जो दिल की बीमारी के लिए फायदेमंद हो सकता है. स्वासासन करने के लिए सबसे पहले आप जमीन पर सीधे लेट जाएं उसके बाद दोनों हथेलियों को खुला छोड़ दें फिर सांस अदर भरकर धीरे-धीरे सांस बाहर छोड़े यह योग आपको निरोग बनाने में मदद कर सकता है.

3. त्रिकोणासन- (Trikonasana)                                                                                                                          त्रिकोणासन स्वास्थ के लिए बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है इससे आपके शरीर को ऊर्जा मिलती है. जो आपके दिल को दुरुस्त रखने में मदद करता है. त्रिकोणासन करने के लिए अपने पैरों को फैला कर सीधे खड़े हो जाएं. दोनों पैरों के बीच थोड़ा गैप रखें उसके बाद बाएं हाथ को ऊपर ले जाते हुए कमर को दाएं झुकाएं फिर इसी प्रकार दूसरे हिस्से के साथ भी करें.

4. सेतु-बंधासन- (Setu Bandhasana)                                                                                                              सेतुबंधासन से पीठ दर्द, हड्डी, गर्दन को फायदा मिलता है. सेतुबंधासन करने से स्ट्रेस कम होता है जो दिल को स्वस्थ रखने में मदद करता है. इस आसन को करने के लिए पीठ के बल सीधे लेट जाएं फिर अपने दोनों पैरों को मोड़ते हुए कमर के पास लाएं और कमर को उठा लें फिर धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए उसी पोजीशन में आ जाएं.

5. वीरभद्रासन- (Veerabhadrasana)
वीर भद्रासन से छाती कंधे और दिल को लाभ मिलता है. वीरभद्रासन करने के लिए सबसे पहले सीधे खड़े हो जाएं फिर एक पैर पीछे की तरफ ले जाएं और दूसरे पैर को 90 डिग्री में मोड़ लें फिर दोनों हाथो को आगे की तरफ मोड़ते हुए उपर उठा लें. बारी-बारी से इस क्रिया को 5 मिनट तक दोहराएं.

यह भी पढ़े: दुनिया की सबसे बुजुर्ग यू-ट्यूबर Mastanamma का 107 साल की उम्र में निधन

6. अंजली मुद्रा- (Anjali Mudra)
अंजली मुद्रा में सीधे आसन पर बैठ जाएं और दोनो हाथों को छाती के पास जोड़ लें उसके बाद सांस अंदर लें और फिर धीरे-धीरे सांस बाहर छोड़े. यह आसान भले ही देखने में आसान स लगे लेकिन शरीर को स्वस्थ रखने में बेहद लाभकारी है.

7. भुजंगासन- (Bhujangasana)
भुजंगासन पेट, पीठ और कमर को फिट रखने का काम करता है इसको करने के लिए पेट के बल सीधे लेट जाएं दोनों हाथों को छाती के पास रखें और धीरे-धीरे अपने शरीर को ऊपर उठाए थोड़ी देर ऐसे ही रहे फिर वापस उसी पोजीशन में आ जाएं.

8. पश्चिमोत्तासन- (Paschimottasana)
पश्चिमोत्तासन से शरीर लचीला बनता है इससे दिल की धड़कने भी नियंत्रित रहती है. इस आसन को करने के लिए सीधे बैठ जाएं अपने दोनों पैरों को जोड़ के आगे रखें और बिना घुटने मोड़े अपनी नाक को घुटनों के पास लाएं.

9. तड़ासन- (Tadasana)                                                                                                                                         तड़ासन से शरीर मजबूत बनता है. इसको करने के लिए सीधे खड़े हो जाए और और दोनों पैरो को बाहर की और निकालें फिर हल्का स फैला लें और दोनों हाथों को ऊपर ले जाकर नमस्कार की अवस्था में जोड़ लें. फिर सांस अंदर की तरफ लें.

10. दंडासन- (Dandasana)
दंडासन से स्मरण शक्ति बढ़ती है. यह अस्थमा के रोगियों के लिए लाभकारी है. इस आसन को करने के लिए सीधा लेट जाए दोनों हाथों और दोनों को पैरों को जमीन से जोड़ लें और पैरों के बल पर अपनी बॉडी का बैलेंस बनाएं सिर को नीचे की तरफ झुका लें और कंधों पर बिलकुल भी जोर न दें.


 ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

 

Tags
पूरी ख़बर पढ़ें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close