FEATUREDNewsजरूर पढ़ेताज़ातरीनदेश

भारत और रूस के बीच हुआ ये बड़ा समझौता, पाकिस्तान की बढ़ने वाली है टेंशन

भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में रोज़ बढ़ती तनातनी के बीच भारत ने रूस के साथ एक बड़ा समझौता किया है। सैन्य सूत्रों ने 7c न्यूज़ को बताया कि भारत ने गुरुवार को रूस के साथ 10 साल की अवधि के लिए परमाणु क्षमता से लैस हमलावर पनडुब्बी पट्टे पर लेने के लिए रूस के साथ तीन अरब डॉलर का समझौता किया है। एक्सपर्ट्स की माने तो भारत और रूस के बीच हुए इस समझौते से पाकिस्तान की टेंशन में बढ़ सकती है।

दोनों देशों के बीच कीमतो और विभिन्न अन्य पहलुओं को ले कर कई महीनों तक बातचीत हुई और बाद एक अंतर-सरकारी समझौते पर हस्ताक्षर किए गए।

संधि के तहत, रूस को अकुला श्रेणी की पनडुब्बी 2025 तक भारतीय नौसेना को देनी होगी। सूत्रों ने बताया की यह पनडुब्बी को Chakra III के नाम से भारीतय नौसेना के हिस्सा बनेगी।

यह भारतीय नौसेना को लीज पर दी जाने वाली तीसरी रूसी पनडुब्बी होगी।

रक्षा मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने इस सौदे के बारे में पूछे जाने पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।

यह भी पढ़े: LoC पर गोलाबारी तेज, PAK ने नौशेरा में दागे मोर्टार, 3 लोगों की मौत

हिंद महासागर क्षेत्र में अपने ताकत को बढ़ाने करने की चीन की कोशिशों की पृष्ठभूमि में भारत अपनी नौसेना की प्रगति को काफी मजबूत कर रहा है।

भारतीय नौसेना ने इस से पहले भी रूस से लीज पर दो और पनडुब्बियां ली हैं।

1988 में पहली रूसी परमाणु-पनडुब्बी – नामांकित आईएनएस चक्र – को तीन साल की लीज के तहत लिया गया था। 2012 में एक दूसरे INS Chakra को 10 साल की अवधि के लिए लीज पर लिया गया था।

यह भी पढ़े: जम्मू बस स्टैंड पर बस के अंदर ग्रेनेड विस्फोट, 28 घायल: 1 गिरफ्तार

सूत्रों ने कहा कि Chakra II की लीज 2022 में समाप्त हो जाएगी और भारत लीज और आगे बढ़ाने के बारे मै सोच रहा है।

अक्टूबर में, भारत ने एस -400 मिसाइल प्रणाली के एक बैच की खरीद के लिए रूस के साथ बहु-अरब डॉलर के समझौते पर हस्ताक्षर किए थे।


 ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

Tags
पूरी ख़बर पढ़ें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close